मनोरंजन

दूसरों की पीड़ा को अपने अंदर महसूस करके दुस्साहसी होने की प्रेरणा देती है पैडमैन

मनोरंजन 10 Feb, 2018 01:29 AM
padman poster

MM NEWS TV / धर्मेंद्र उपाध्याय — साधारणत: जीवन में कुछ अलग करने की शुरुआत अपनी बेहतरी के कारण होती है लेकिन जब हम यही कदम दूसरों की पीड़ा को अपने अंदर महसूस करके उठाते हैं तो उसके परिणाम समाजोपयोगी साबित होते हैं।
शुक्रवार को रिलीज हुई लेखक-निर्देशक आर बाल्की की पैडमैन एक समाजपोयोगी सिनेमा के नजारे देखने को मिले। ये तो सर्व विदित है कि ये फिल्म कोयंबटूर के अरूणाचल मुरुगनाथम की जिंदगी से प्रेरित हैं लेकिन फिल्म की कहानी मध्यप्रदेश के मालवा में रोप दिया गया है। कहानी के मुताबिक लक्ष्मी चौहान (अक्षय कुमार) एक निमन मध्यवर्गीय परिवार में रहने वाला इंसान है जिसके घर में उसकी मां, दो छोटी बहिन और एक नई नवेली पत्नी गायत्री (राधिका आप्टे) है।
लक्ष्मी की नई नई शादी हुई है वो अपनी पत्नी का बेहद खयाल रखता हैं। इसी दौरान लक्ष्मी की पत्नी को माहवारी होती हैं। घर की सभी महिला सदस्य इसे बुरा मानकर ना केवल उसकी पत्नी को घर से बाहर एक कोने में जगह देते हैं बल्कि लक्ष्मी को भी अपनी पत्नी से दूर रहने की हिदायत देते हैं। इसी दौरान एक हादसे के चलते लक्ष्मी को पता चलता है कि माहवारी के दौरान गंदे कपड़े उपयोग में लेने से महिलाओं के कितनी परेशानी होती है। वो अपनी पत्नी के लिए भी पैड खरीद कर लाता है, लेकिन उसकी पत्नी पैड की महंगाई को देखते हुए इसे वापिस करवा देती हैं। इसका तोड़ निकालने के लिए लक्ष्मी अब खुद रूई और मलमल खरीद कर पैड बनाता है।
लेकिन ये पैड बनाने की धुन उसे अपमान का कड़वा घूंट पिलाती है। पत्नी और बहिनों को महावारी के दौरान पैड बनाने की बात तक तो ठीक था लेकन एक दिन लक्ष्मी पड़ौस में ही रहने वाली एक लड़की को रात को पैड देने पहुंच जाता है। गांव में बबाल मच जाता हैं। इससे नाराज होकर लक्ष्मी की पत्नी गायत्री उसे छोड़कर चली जाती हैं। लक्ष्मी भी अपना गांव छोड़कर कहीं और चला जाता हैं।
परिवार बिखर जाता है लेकिन अब औरतों के लिए पैड बनाना ही उसकी जिंदगी का जुनून बन जाता हं। इस जुनूनी सफर में ही अचानक उसकी मुलाकात परी वालिया (सोनम कपूर ) से होती है। एम बी ए स्टूडेंट और तबला प्लेयर परी वालिया उसके सपने का आगे बढाने में उसकी मदद करती है। कहानी इसके बाद लक्ष्मी चौहान की कामयाबियों के साथ सुखद समाप्ति की ओर बढती हैं।
फिल्म में निर्देशक बाल्की के साथ लेखन की बागडोर संभाली है स्वानंद किरकिरे ने । स्वानंद ने संवादों में खूब धार दी हैं। खासकर इंगलिश का हिंगलिस अंदाज तो सुना था पर लिंगलिश ने जो फिल्म को जो मजेदार अंत दिया है उसके क्या कहने। निर्देशक आर बाल्की की फिल्मों में महिला किरदारों का चरित्र मजबूत होता हैं। यहां भी फिल्म की दौनों अभिनेत्रियों के लिए खूब स्पेश दिया गया है। राधिका आप्टे पहली बार एक अच्छे घरेलू किरदार में नजर आई हैं साथ ही सोनम कपूर का रोल भी बिलकुल सार्थक है।
सोनम कपूर अपनी इंट्री के साथ ही दर्शकों पर अपनी पकड़ बनाती हैं। आर बाल्की ने बतौर निर्देशक फिल्म को अपने अनुभवों से भी संवारा है। फिल्म का एक खास सीन जिसमें नायक लक्ष्मी चौहान की पत्नी अपनी शर्ट को दबाकर पहनने का आग्रह करती है। लेकिन अंत में उसकी दबी हुई शर्ट को देख कर असमंजस में आ जाती है।
अक्षय कुमार के कांधों पर तो फिल्म की खासाम्भार है ही, कड़ी में अक्षय कुमार भी खूब निभा जाते हैं। लेकिन अक्षय कुमार फिल्म निर्माम के मामले में खासी रिस्क ले रहे हैं, अगर तकनीकी अंदाज से देखा जाए तो छोटे से स्थान पर ही गांव का पूरा माहौल बना दिया गया है। दर्शकों के समक्ष बार बार आवागमन के दृष्यों की पुनरावृति होती है। एसा जॉली एल एल बी में भी लगा।
फिल्म की एक बात ये भी कि ये उनकी की पिछली फिल्मों से थोड़ी हटके लगती है। मनोरंजन सामाजिक, बड़े छोटे सभी दर्शकों को ये अच्छी लगेगी। एक लाइन में कहूं तो फिल्म पैसा वसूल है। आप बेहिचक परिवार के साथ देख के आ सकते हैं।

dharam upadhyay

(पिछले कई सालों से पिंकसिटी जयपुर के पत्रकारिता जगत के साथ रंगमंच और राजस्थानी सिनेमा में सक्रिय रहे युवा पत्रकार धर्मेंद्र उपाध्याय, बतौर फिल्म पत्रकार काम करते हुए कई डॉक्यूमेंट्री फिल्मों का लेखन-निर्देशन कर चुके हैं। धर्मेंद्र इन दिनों मुंबई में एक स्क्रीनराइटर के रूप में सक्रिय हैं।)

Follow and like us:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Related News

eg
dr. manish ad
media multinate banner
kid-zee
मीडिया को करना हो मल्टीनेट चुनिए मीडिया मल्टीनेट #MEDIAMULTINATE For better media coverage & publicity With all leading news channels & news paper’s MEDIA MULTINATE (Rajasthan most popular Advertising/P.R./Media agency ) https://www.facebook.com/MediaMultinategroup/ — Press Conference , Media Management – call -8114426854 | MM NEWS TV को राजस्थान के सभी संभाग , जिले स्तर पर ब्यूरो हेड की आवश्यकता है संपर्क करें – 8114426854 | MM NEWS TV को राजस्थान के सभी संभाग , जिले स्तर पर ब्यूरो हेड की आवश्यकता है संपर्क करें – 8114426854 | MM NEWS TV को राजस्थान के सभी संभाग , जिले स्तर पर ब्यूरो हेड की आवश्यकता है संपर्क करें – 8114426854 | MM NEWS TV को राजस्थान के सभी संभाग , जिले स्तर पर ब्यूरो हेड की आवश्यकता है संपर्क करें – 8114426854 | MM NEWS TV को राजस्थान के सभी संभाग , जिले स्तर पर ब्यूरो हेड की आवश्यकता है संपर्क करें – 8114426854 | MM NEWS TV को राजस्थान के सभी संभाग , जिले स्तर पर ब्यूरो हेड की आवश्यकता है संपर्क करें – 8114426854 | MM NEWS TV को राजस्थान के सभी संभाग , जिले स्तर पर ब्यूरो हेड की आवश्यकता है संपर्क करें – 8114426854 | MM NEWS TV को राजस्थान के सभी संभाग , जिले स्तर पर ब्यूरो हेड की आवश्यकता है संपर्क करें – 8114426854 | MM NEWS TV को राजस्थान के सभी संभाग , जिले स्तर पर ब्यूरो हेड की आवश्यकता है संपर्क करें – 8114426854 |